पुलवामा हमले में शहीद की पत्नी बैठी धरने पर बोली- 65 लाख रुपए की मदद 2 साल बाद भी नहीं मिली

पुलवामा हमले में शहीद कौशल कुमार की पत्नी ममता रावत सरकार द्वारा मांग ना पूरी होने पर परिवार के साथ धरने पर बैठ गयी। ममता रावत का कहना है कि जब तक मांग पूरी नहीं होंगी, वो धरने से नहीं उठेंगी।
     
  • उत्तर प्रदेश
आगरा : पुलवामा हमले में शहीद कौशल कुमार की पत्नी ममता रावत सरकार द्वारा मांग ना पूरी होने पर परिवार के साथ धरने पर बैठ गयी। ममता रावत का कहना है कि जब तक मांग पूरी नहीं होंगी, वो धरने से नहीं उठेंगी। ममता शिक्षा विभाग द्वारा परिवार की सहायता के लिए एकत्र की गई धनराशि परिवार को न देने पर सीएम योगी आदित्यनाथ और पीएम नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार भी लगा चुकी हैं।




शिक्षकों और कर्मचारियों की इस मदद से 65 लाख 57 हजार की धनराशि एकत्र की गई थी। लेकिन दो साल बाद भी नहीं मिली।ममता शिक्षा विभाग द्वारा परिवार की सहायता के लिए एकत्र की गई धनराशि परिवार को न देने पर सीएम योगी आदित्यनाथ और पीएम नरेंद्र मोदी से मदद की गुहार भी लगा चुकी हैं। शिक्षकों और कर्मचारियों की इस मदद से 65 लाख 57 हजार की धनराशि एकत्र की गई थी। लेकिन दो साल बाद भी नहीं मिली।





मांग ना पूरी होने पर परिवार के साथ आत्महत्या करुंगी- ममता 

शहीद की पत्नी ने बीते 24 जून को सरकार पर कई आरोप लगाए थे। साथ ही जल्द मांग पूरी न होने पर आत्महत्या करने की बात भी कही थी।, ममता रावत मांग पूरी न होने पर आज परिवार के एक दर्जन लोगों के साथ पति की प्रतिमा के आगे धरने पर बैठ गई हैं।

नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें