-
BREAKING NEWS

राकेश टिकैत का ऐलान- मोदी के गढ़ गुजरात में चलेगा किसान मुक्ति अभियान

राकेश टिकैत की नजर गुजरात के किसानों को आंदोलन में शामिल करने की है। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि, आंदोलन अभी लंबा चलेगा। यह आंदोलन देश के गांव-गांव में चलेगा। गुजरात के किसान अभी बंधन में हैं।
  • Bhupendra Singh Chauhan

  • Published:07-04-2021 10:44:54
  • राज्य

किसान आंदोलन। केंद्र सरकार द्वारा पिछले वर्ष मई माह में बनाए गए कृषि कानूनों के विरोध में लंबे समय से किसानों का आंदोलन चल रहा है। गणतंत्र दिवस पर हुई दिल्ली हिंसा के बाद तो एक बार लगा कि, आंदोलन अब समाप्त हो जाएगा लेकिन इसी बीच यूपी के गाजीपुर बॉर्डर पर भारतीय किसान यूनियन का नेतृत्व कर रहे राकेश टिकैत के छलके आंसुओं ने आंदोलन को एक बार फिर रफ़्तार पकड़ा दी।





सरकार जहां कानूनों पर संशोधन की बात कर रही है तो वहीं किसान कानून वापस लेने की मांग पर अड़े हुए हैं। जिसका नतीजा है कि सरकार और किसानों के बीच कई चरणों की वार्ता के बावजूद बात बन नहीं पाई है। भाकियू नेता राकेश टिकैत भी कानूनों के विरोध में नवंबर के आखिरी सप्ताह से गाजीपुर बॉर्डर पर आंदोलनरत हैं। अब वह अपने आंदोलन को और आगे बढ़ाने की बात कर रहे हैं।










ताजा अपडेट के अनुसार, अब राकेश टिकैत की नजर गुजरात के किसानों को आंदोलन में शामिल करने की है। उन्होंने मीडिया से बातचीत में कहा कि, आंदोलन अभी लंबा चलेगा। यह आंदोलन देश के गांव-गांव में चलेगा। गुजरात के किसान अभी बंधन में हैं। किसान नेता ने कहा कि वहां किसानों को मुक्त करने के लिए 'किसान मुक्ति अभियान' चलाना पड़ेगा।





भाकियू नेता ने आगे बोलते हुए कहा कि,  गुजरात में अभी पुलिस राज चल रहा है। लेकिन अब धीरे-धीरे भाजपा नेता भी हमारे साथ जुड़ रहे हैं। उन्होंने अगले आंदोलन के बारे में बताते हुए कहा कि, संसद घेराव की तारीख अभी तय नहीं हुई है। इस पर सभी किसान बैठक करेंगे उसके बाद कोई निर्णय लिया जाएगा।



  
 
नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें