BREAKING NEWS

WTC फाइनल के लिए क्या हो सकती है भारतीय टीम की प्लेइंग 11, किसे मिलेगा मौका और कौन होगा बाहर?

भारतीय टीम टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC) में न्यूजीलैंड से भिड़ने के लिए कमर कस चुकी है। दोनों के बीच साउथैम्पटन के एजेस बाउल स्टेडियम में होने वाले खिताबी मुकाबले में अब 2 ही दिन बाकी रह गए है।
     
  •       Bharat Samachar News Desk
  •      Published:15-06-2021 19:34:05
  • खेल
भारतीय टीम टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल (WTC) में न्यूजीलैंड से भिड़ने के लिए कमर कस चुकी है। दोनों के बीच साउथैम्पटन के एजेस बाउल स्टेडियम में होने वाले खिताबी मुकाबले में अब 2 ही दिन बाकी रह गए है। जैसे-जैसे फाइनल का समय करीब आ रहा है, उसी के साथ भारत की प्लेइंग इलेवन को लेकर भी चर्चा तेज हो गई है। पूर्व क्रिकेटर से लेकर क्रिकेट विशेषज्ञ अपनी-अपनी राय बता रहे हैं। किसी को जहां भारतीय टीम के चार तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ खेलने की उम्मीद है तो कोई तीन तेज गेंदबाजों और 2 स्पिनर्स को मौका दिए जाने की बात कर रहा है।



टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल की पिच में पेस और बाउंस होगी

एजेस बाउल स्टेडियम के मुख्य क्योरेटर ने सिमोन ली ने कहा कि भारत और न्यूजीलैंड के बीच डब्ल्यूटीसी फाइनल मुकाबले की पिच में पेस और बाउंस होगी। उन्होंने कहा, 'पिच में पेस होने से यह टेस्ट क्रिकेट को उत्साहित बनाता है। मैं क्रिकेट का प्रशंसक हूं और ऐसी पिच तैयार करना चाहता हूं जहां क्रिकेट को पसंद करने वाले हर एक गेंद का आनंद लें।' ली के अनुसार, 'अगर गेंदबाज और बल्लेबाज के बीच कौशल का मुकाबला होगा तो मेडन ओवर उत्साहित करने वाला होगा। अगर हम पिच में पेस और बाउंस रखेंगे तो इससे खुशी होगी।' ली ने कहा कि मैच आगे बढ़ने के साथ स्पिनरों की भूमिका भी होगी। ऐसे में आइए जानते हैं कि भारत की प्लेइंग इलेवन में किन खिलाड़ियों को मौका मिल सकता है?



इन तेज गेंदबाजों को मिल सकता है मौका

भारतीय टीम इस बात से सहमत है कि पिच और इंग्लैंड की परिस्थितियां तेज गेंदबाजों के अनुकूल होंगी। ऐसे में भारतीय टीम हालात को मद्देनजर रखते हुए तीन तेज गेंदबाजों को अंतिम एकादश में रख सकती है। तेज गेंदबाज के रूप में जसप्रीत बुमराह और मोहम्मद शमी स्वाभिवक पसंद होंगे तो तीसरे स्लॉट के लिए इशांत शर्मा और मोहम्मद सिराज के बीच कड़ी टक्कर होगी। वहीं, भारत स्पिनर को मिलने वाली मदद को नजरअंदाज नहीं करेगा, जो उसका मजबूत पक्ष है। टीम इंडिया दो स्पिनरों- रवींद्र जडेजा और रविचंद्रन अश्विन  को प्लेइंग-11 में अवसर दे सकता है। अश्विन का खेलना तय है क्योकि वो बॉलिंग के साथ-साथ बैटिंग भी कर सकते है। 



टीम की बल्लेबाजी में कोई बड़ा बदलाव मुश्किल

हालांकि, कप्तान विराट कोहली और कोच रवि शास्त्री मौसम की स्थिति के आधार पर अंतिम समय में तीन तेज गेंदबाजों और दो स्पिनर के संयोजन को बदल सकते हैं। मौसम विभाग ने हल्की बारिश का अनुमान जताया है, जिससे कोहली और शास्त्री चार तेज गेंदबाजों और एक स्पिनर के साथ उतरने का फैसला कर सकते हैं। दूसरी ओर, भारतीय टीम की बल्लेबाजी की बात करतें तो कोई बड़ा बदलाव होने की संभावना कम ही है। रोहित शर्मा और शुभमन गिल के ओपनिंग करने की उम्मीद है, लेकिन डब्ल्यूटीसी फाइनल में रोहित के साथ अगर केएल राहुल पारी की शुरुआत करते है तो वह टीम के लिए फायदेमंद होगा क्योकि राहुल के पास अच्छा अनुभव है और टेस्ट में उनका प्रदर्शन काफी अच्छा रहा है। जबकि अनुभवी चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली मध्यक्रम को मजबूती देंगे। ऋषभ पंत एक बार फिर विकेटकीपर की भूमिका में दिखाई देंगे। 




टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में भारत की संभावित प्लेइंग इलेवन

विराट कोहली (कप्तान) रोहित शर्मा, केएल राहुल, चेतेश्वर पुजारा, अजिंक्य रहाणे, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, जसप्रीत बुमराह, इशांत शर्मा और मोहम्मद शमी।




नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें