Jammu & Kashmir : आतंकी हमलों से तंग, गैर-मुस्लिमों को सरकार ने दी राहत, 10 दिन की छुट्टी...

जम्मू-कश्मीर में लगातार गैर मुस्लिम लोगो पर हमले बढ़ते जा रहे है। गैर मुस्लिमों को टारगेट कर उनकी हत्याओं के मामले बढ़ते जा रहे है।
     
  • देश

जम्मू-कश्मीर में लगातार गैर मुस्लिमों को टारगेट कर उनकी हत्याओं के मामले बढ़ते जा रहे है। जिसके कारण कश्मीरी पंडित और गैर मुस्लिम समुदाय के लोग पलायन करने को मजबूर हो रहे हैं। अल्पसंख्यक समुदाय को टारगेट करने वाले आतंकी हमलों के मद्देनजर उनके डर को दूर करने के लिए सरकार ने जख्म पर मरहम लगाने का प्रयास किया है और उन्हें 10 दिनों की छुट्टी दे दी है। आधिकारिक सूत्रों ने शनिवार को कहा कि जम्मू-कश्मीर में कश्मीरी पंडित और अन्य सभी गैर-मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों को शुक्रवार से लगातार 10 दिनों की आधिकारिक छुट्टी दी गई है। 

खबरों के अनुसार, कश्मीर में काम करने वाले गैर-मुस्लिम सरकारी कर्मचारियों को 10 दिनों की विशेष छुट्टी इसलिए दी गई है ताकि वे त्योहारों को मना सकें और अल्पसंख्यक समुदाय पर हो रहे आतंकी हमलों की वजह से जो डर है, उससे थोड़ी राहत पा सकें। प्रशासन की यह कोशिश है कि इस कदम से अल्पसंख्यक समुदाय के मन में बैठा डर कुछ हद तक कम होगा। 

आपको बता दें कि हालके आतंकी हमलों में अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों को निशाना बनाए जाने के बाद यहां इस कदर खौफ पसर गया है कि कई परिवार जान बचाने के लिए जम्मू से पलायन कर रहे हैं। इन कश्मीरी पंडितों ने दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई और अल्पसंख्यकों को सुरक्षा देने की मांग की है। हमलों के खिलाफ जम्मू में कई जगह प्रदर्शन हुए। 

बीते दिनो में जम्मू-कश्मीर में 5 दिनों में ही आतंकवादियों ने 7 लोगों की जान ले ली। इनमें से 4 अल्पसंख्यक समुदाय के थे और 6 हत्याएं ग्रीष्मकालीन राजधानी श्रीनगर में हुईं। बीते दिनों जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में आतंकियों ने ईदगाह इलाके में स्थित एक स्कूल में हमला कर दिय़ा था और इस हमले में स्कूल के प्रिंसिपल और टीचर की मौत हो गई है। दोनों ही गैर मुस्लिम थे।


नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें