BREAKING NEWS

डॉक्टर का दावा: ठीक होने के बाद भी ख़राब होते हैं कोरोना पेशेंट के फेफड़े 

  • Bharat Samachar News Desk

  • Published:20-01-2021 16:00:45
  • कोरोना

कोविड-19: कोरोना पॉजिटिव होने के बाद इलाज कराने के बाद लोग ठीक तो हो रहे हैं लेकिन सवाल यह है कि, क्या उनके फेफड़े भी उतने ही ठीक होते हैं, जितने वो दिखाई दे रहे हैं ? यदि इस पर बात करें तो टेक्सॉस टेक यूनिवर्सिटी हेल्थ साइंसेज सेंटर के असिस्टेंट प्रोफेसर डॉक्टर ब्रिटनी बेंकहेड केंडल ने तीन तरह के लोगों के फेफड़ों की जाँच की। जिसमें उन्होंने एक पूरी तरह से स्वस्थ, एक बुरी तरह से धूम्रपान करने वाला और एक कोविड का पेशेंट शामिल किया है।

इन लोगों में सबसे ज्यादा ख़राब फेफड़े कोरोना पेशेंट रह चुके व्यक्ति के मिले। डॉक्टर ने तीनों के फेफड़ों के एक्सरे को अपने ट्वीटर अकाउंट पर भी पोस्ट किया है। उन्होंने इसमें फर्क को बेहतर ढंग से समझाया है। डॉक्टर, मार्च से अब तक कोविड के हज़ारों पेशेंट का इलाज कर चुके हैं।

इस रिसर्च में डॉक्टर ने भिन्न- फेफड़ों की एक-दूसरे से तुलना की है। जिसमें स्वस्थ व्यक्ति के डॉक्टर ने अलग-अलग लोगों के फेफड़ों के एक्सरे को कम्पेयर किया है.स्वस्थ इंसान के एक्सरे बिलकुल साफ दिख रहे हैं और इसमें ज्यादा काला स्पेस है। जिसका अर्थ यह हुआ कि यह व्यक्ति हवा को ज्यादा मात्रा में और ज्यादा देर तक इन्हेल कर सकता है। वहीं धूम्रपान करने वाले व्यक्ति के फेफड़े में जख्म और जमाव नज़र आ रहा है, जो खतरे की ओर इशारा कर रहा है। जबकि कोरोना संक्रमित रह चुके रोगी के फेफड़े लगभग पूरी तरह से सफेद दिख रहे हैं। जिसका अर्थ है कि, फेफड़े बुरी तरह से ख़राब हो चुके हैं।